झूठी रिपोर्ट देख तानाशाह को आया गुस्सा, 5 अधिकारियों को यूं उतारा मौत के घाट

kim_jong_un_angry_28_02_2017

सिओल। नॉर्थ कोरिया में पांच वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारियों को मौत के घाट उतार दिया गया है। उन्होंने किम जोंग उन के सामने झूठी रिपोर्ट पेश की थी, इससे तनाशाह को गुस्सा आ गया और पांचों अफसरों को एंटी-एयरक्राफ्ट गन के सामने खड़ा कर उड़ा दिया गया।

दक्षिण कोरिया की एक खुफिया एजेंसी ने यह खबर जारी की है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि किस झूठी रिपोर्ट के आधार पर इतनी बड़ी कार्रवाई की गई।

यह खबर ऐसे समय आई है जब मलेशिया में किम को सौतेले भाई किम जोंग नाम की हत्या की जांच चल रही है। बीते दिनों मलेशिया के कुआलालंपुर एयरपोर्ट पर जहर खुरानी से नाम की मौत हो गई थी। दक्षिण कोरिया का आरोप है कि किम जोंग उन के आदेश पर नाम की हत्या की गई है।

यह है किम जोंग नाम की कहानी

बीती 13 फरवरी को खबर आई थी कि उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नाम की मलेशिया में हत्या कर दी गई है। जांच में खुलासा हुआ है कि उन्हें जहर देकर मारा गया। वह कोरियाई नेता से उम्र में बड़े थे और लंबे समय से चीन शासित मकाउ में निर्वासित जीवन व्यतीत कर रहे थे।

45 वर्षीय किम जोंग नाम जब कुआलालंपुर के एयरपोर्ट पर थे, तब दो अज्ञात महिला एजेंटों ने जहरीली सुई लगा दी थी। इसके तुरंत बाद वे कैब से रफूचक्कर हो गईं। नाम को वहां अचेत अवस्था में पाया गया था। उनको तुरंत अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

CAPTCHA