विडिओ:-राम का तीर लगते ही, अधर्मी रावण का हुआ अंत…

As soon as Rama's arrow hits, the unrighteous Ravan ends ...

उज्जैन। विगत 56 वर्षों से दशहरा मैदान में रावण दहन की परंपरा चली आ रही है इस वर्ष भी दशहरे पर हजारों  लोगों की मौजूदगी में 101  फिट रावण के पुतले दहन किया गया व एक बार पुनः यह सच्चाई साबित हुई की बुराई कितनी भी बड़ी क्यों ना हो अच्छाई के एक बाण से उसका अंत निश्चित ही संभव है।

दशहरा मैदान पर हजारों की संख्या में लोग अपने परिवार के साथ रावण दहन देखने पहुंचे लोगों ने यहां शानदार आतिशबाजी का लुफ्त उठाया । स्वर्गीय लाला अमरनाथ स्मृति में इस बार 56 वा दशहरा महोत्सव मैं शहर भर के नेता अधिकारी उपस्थित रहे।