विडिओ:- रावण को दशहरा मैदान समझाने पहुंचे बाबा महाकाल…

रावण

उज्जैन । प्रति वर्ष अनुसार इस वर्ष भी दशहरे के दिन बाबा महाकाल पुराने शहर से नए शहर में चांदी की पालकी में विराजित होकर दशहरे मैदान पहुंचे… बाबा महाकाल की पालकी महाकाल मंदिर से अपने तय मार्ग से देवास गेट चामुंडा माता होते हुए फ्रीगंज पहुंची यहां भक्तों का सैलाब बाबा की एक झलक पाने के लिए उमड़ पड़ा उसके बाद भक्तों को दर्शन देते हुए सीधे बाबा महाकाल दशहरे मैदान पहुंचे ।

दशहरे मैदान में मानो ऐसा प्रतीत हो रहा था जैसे कि बाबा महाकाल रावण को समझाइश दे रहे हैं की बुराई को त्याग कर सत्य की राह पर अपना ले रावण वरना तेरा विनाश हो जाएगा। बाबा महाकाल की पालकी का दशहरा मैदान में कलेक्टर शशांक मिश्र और एसपी सचिन अतुलकर ने पूजन अर्चन कर पुनः बाबा की सवारी को महाकाल मंदिर की तरफ रवाना किया। प्रतिवर्ष बाबा महाकाल नए शहर पहुंचते हैं और भक्तों का हाल-चाल जानते हुए दशहरे मैदान पहुंचते हैं उसके बाद ही परंपरागत अनुसार रावण दहन किया जाता है।