इंदिरा गांधी की वजह से बिग बी को मिली थी पहली फिल्म

mysitinews.com

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा का सबसे बड़ा ‘दादा साहब फाल्के अवॉर्ड’ दिया जाएगा। प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार शाम ट्वीट करके इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने लिखा, “लीजेंड अमिताभ बच्चन जिन्होंने हमें दो पीढ़ियों तक एंटरटेन किया है. उन्हें एकमत ढंग से दादा साहब फाल्के अवॉर्ड के लिए चुना गया है. पूरा देश और इंटरनेशनल कम्युनिटी इस बारे में खुश है. मेरी उनको बहुत-बहुत शुभकामनाएं.”

76 साल की उम्र में भी ‘बिग बी’ कर रहे हैं बॉलीवुड में काम
76 साल की उम्र में भी बिग बी फिल्मों में सक्रिय है। यही नहीं वह टीवी शो कौन बनेगा करोड़पति भी होस्ट कर रहे है। 11 अक्टूबर 1942 को इलाहाबाद में जन्में अमिताभ के पिता का नाम हरिवंशराय बच्चन और माता का नाम तेजी बच्चन है। अमिताभ की मां तेजी इंदिरा गांधी की पक्की सहेली थी। फिल्मों में आने से पहले बिग बी कोलकाता में रेडियो एनाउंसर और एक शिपिंग कंपनी में एक्ज़ीक्यूटिव के तौर पर काम करते थे, जिसके लिए उन्हें 800 रुपए वेतन मिलता था। बाद में वह अपनी किस्मत अजमाने मुंबई चले गए।

इंदिरा गांधी की वजह से मिली पहली फिल्म
खबरों के मुताबिक, मुंबई आते वक्त उनके पास इंदिरा गांधी का लिखा सिफारिशी खत भी था, जिसकी बदौलत उन्हें के.ए. अब्बास की फिल्म ‘सात हिन्दुस्तानी’ में काम मिला। इस फिल्म के लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला। करियर के शुरुआत में अमिताभ प्रसिद्ध हास्य कलाकार तथा निर्माता-निर्देशक महमूद के घर पर रहे थे और बाद में उन्होंने महमूद की फिल्म ‘बॉम्बे टु गोवा’ में काम भी किया।

फिल्मों में आने से पहले करते थे रेडियो एनाउंसर का काम
अपने करियर के शुरुआती दिनों में उन्हें वह दिन भी देखना पड़ा जब उनकी आवाज को लोगों ने नकार दिया था। करियर के शुरुआत में अमिताभ बच्चन ने ‘आकाशवाणी’ में भी एनाउंसर पद के लिए आवेदन किया लेकिन वहां काम करने का अवसर नहीं मिला। यहां तक कि फिल्म ‘रेशमा’ और ‘शेरा’ में अपनी अच्छी आवाज के बावजूद उन्हें मूक भूमिका भी स्वीकार करनी पड़ी।

अमिताभ अपने करियर में कई सुपरहिट फिल्में कर चुके हैं जिनमें से लगभग 12 फिल्मों में उन्होंने डबल रोल किया। यही नहीं एक फिल्म में उन्होंने ट्रिपल रोल भी किया। वर्ष 2003 में अमिताभ बच्चन को फ्रांस के ड्यूविले शहर की मानद नागरिकता भी प्रदान की गई, जो किसी भी विदेशी के लिए बेहद दुर्लभ कही जाती है।

फिल्म ‘खुदा गवाह’ की अफगानिस्तान में शूटिंग के दौरान तत्कालीन अफगानी राष्ट्रपति नजीबुल्लाह ने अमिताभ बच्चन की सुरक्षा के लिए देश के लगभग आधे सुरक्षा तंत्र को तैनात कर दिया था। कहा जाता है कि ‘खुदा गवाह’ अफगानिस्तान के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी हिट फिल्म थी।

जया बच्चन से की शादी
1973 में अमिताभ बच्चन ने जया के साथ शादी की। दोनों की पहली मुलाकात पुणे के फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टीट्यूट में हुई थी। बार में वे ऋषिकेश मुखर्जी की फिल्म ‘गुड्डी’ के सेट पर मिले। दोनों ने एक-साथ कई फिल्मों में भी काम किया। फिल्म अभिमान के रिलीज होने से ठीक एक महीना पहले दोनों की शादी हो गई।फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान अमिताभ को गंभीर चोट लगी थी। खबरों के मुताबिक, डॉक्टरों ने उनके परिवारवालों को यह तक कह दिया था कि अमिताभ को आखिर बार मिल लें। उस दौरान उनकी पत्नी जया बच्चन रोज़ाना ब्रीच कैंडी अस्पताल से सिद्धि विनायक मंदिर तक पैदल जाया करती थीं, जो लगभग छह किलोमीटर है।

रेखा के साथ अफेयर को लेकर भी कॉन्ट्रवर्सी
रेखा और अमिताभ के रिश्ते के बारे में तो सब जानते है। 1978 में दोनों के अफेयर की खबरें फिल्मी मैगजीन की सुर्खियां बनने लगी, जिसे लेकर अमिताभ के घर में काफी हंगामा हुआ। कहा जाता हैं कि रेखा दिल ही दिल में अमिताभ को चाहती थीं लेकिन अमिताभ हमेशा इस रिश्ते को लेकर चुप रहे। वही कभी रेखा मांग में सिंदूर भरे दिखती थी तो कभी अपनी मां बनने की अफवाह उड़ाती थी। इन बातों से तंग आकर जया ने रेखा को डिनर पर बुलाया था, जिसके बाद अमिताभ और रेखा हमेशा के लिए दूर हो गए। जया ने रेखा को घर बुलाकर कहा था कि वह अमिताभ को कभी नहीं छोड़ेगी।जया और अमिताभ अब अपनी शादीशुदा जिंदगी में खुश है। दोनों के दो बच्चे हैं अभिषेक बच्चन और श्वेता बच्चन। एक्टर अभिषेक बच्चन ने एक्ट्रेस एेश्वर्या राय से शादी की। दोनों की एक बेटी भी है। वही अमिताभ की बेटी श्वेता बच्चन भी शादीशुदा है। अमिताभ अपनी बेटी के बेहद करीब हैं।