धड़ो और गुटों में बटी कांग्रेस को एकजुटता की जरूरत उज्जैन में गुटबाजी चरम पर

Ddo and clans twisted Congress factionalism extreme need solidarity Ujjain

धड़ो और गुटों में बटी कांग्रेस को एकजुटता की जरूरत उज्जैन में गुटबाजी चरम पर

उज्जैन । गुजरात चुनाव में जिस प्रकार से कांग्रेस ने जोरदार प्रदर्शन किया और हाल ही में राजस्थान में हुए उपचुनाव में कांग्रेस की जीत से कांग्रेस के बड़े नेता मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भी सक्रिय हो गए हैं मध्य प्रदेश के प्रभारी श्री बावरिया 3 दिन तक उज्जैन में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर दावेदारों से लेकर कार्यकर्ताओं और वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करने जा रहे हैं ऐसे में धड़े और गुटों में बटी कांग्रेस यदि एकजुट होकर इस बार चुनाव लड़ती है तो हो सकता है मध्य प्रदेश में कांग्रेस की ना केवल सरकार बने बल्कि 15 साल के वनवास को काटकर कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेता एक बार फिर से मध्य प्रदेश के विभिन्न निगम मंडलों में बैठे नजर आएंगे।
उज्जैन में गुटबाजी चरम पर।
देखा जाए तो उज्जैन जिले में कभी कांग्रेस का एक तरफा रास्ता राज था पर धीरे-धीरे गुटबाजी और आपसी मनमुटाव के चलते कांग्रेस का उज्जैन जिले से सूपड़ा साफ हो गया ,ऐसे में अब जबकि 2019 में विधानसभा के चुनाव होने जा रहे हैं ऐसे में यदि जिले के कांग्रेसी एकजुट होकर चुनाव लड़े तो हो सकता है कि जिस प्रकार से जिला पंचायत में कांग्रेस का कब्जा है विधानसभा में भी उनके विधायक हो ।
उल्लेखनीय की 15 साल से युवक कांग्रेस से बड़ी आस और उम्मीद से कांग्रेस में आए युवा की उनके और उनके साथ वाले सरकार के विभिन्न विभागों और निगम मंडलों में पदों पर होंगे पर बड़े बड़े कांग्रेसी जो कि शुरू से गुटबाजी करते आए हैं उनके कारण कांग्रेस विधानसभा में लगातार हार का मुंह देख रही है ।उज्जैन दक्षिण की बात करें तो यहां कांग्रेस दो गुटों में बैठी है वहीं उत्तर में भी गुटबाजी को सब भली भांति जानते हैं ऐसे में तराना घटिया महिदपुर बड़नगर और नागदा में कांग्रेस के कई जिताऊ उम्मीदवार मौजूद हैं पर उन्हें भी डर है तो केवल गुटबाजी से ऐसे में मध्य प्रदेश के प्रभारी यदि 3 दिन तक कांग्रेस नेताओं को केवल इतना पाठ पढ़ा जाए कि गुटबाजी खत्म कर वनवास खत्म करो तो हो सकता है कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CAPTCHA