चाणक्य स्मृति दिवस पर हुई आरक्षण वरदान या अभिशाप विषय पर परिचर्चा

Discussion on Chanakya Smriti Day on reservation boon or curse
उज्जैन। आचार्य चाणक्य स्मृति दिवस का आयोजन बुधवार को लक्ष्मी वेंकटेश आश्रम नृसिंह घाट पर किया गया। अ.भा. ब्राह्मण समाज और चाणक्य सेना के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में आरक्षण वरदान या अभिशाप विषय पर परिचर्चा का आयोजन भी किया गया।
चाणक्य सेना के प्रवक्ता पं. प्रमोद व्यास एवं अभिजीत दुबे ने बताया कि परिचर्चा में मुख्य वक्ता विक्रम विश्वविद्यालय विधि संकाय के पूर्व एचओडी प्रो. बी.एल. शर्मा, महाकाल सेना प्रमुख पं. महेश पुजारी, सपाक्स संगठन जिलाध्यक्ष अरविंदसिंह चंदेल ने परिचर्चा को संबोधित किया। अध्यक्षता अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष पं. सुरेन्द्र चतुर्वेदी ने की। इस अवसर पर पं. जियालाल शर्मा, रवीन्द्र भारद्वाज, गौरव उपाध्याय, शैलेन्द्र द्विवेदी, सुनील व्यास, विनय ओझा, प्रणव गर्ग, अंकित चौबे, मनीष मनाना, डॉ. निर्भय निर्दोष, समानता आंदोलन के यशवंत अग्निहोत्री, चंदन गुरू व्यास, अमितोज भार्गव, अशोक दुबे, मुकेश त्रिवेदी, अरविंद उपाध्याय, निशा त्रिपाठी, ममता मिश्रा, रजनी उपाध्याय, अर्चना शुक्ला, विनिता शर्मा, शिवनारायण शर्मा, दीपक बेलानी, अनिरूध्द भार्गव, शीतल अक्षय, आकाश तिवारी, महेन्द्र उपाध्याय, यश जोशी, आशुतोष उपाध्याय, लोकेन्द्र व्यास आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

CAPTCHA