महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत बनी पंजाब में डीएसपी

DSP en Punjab, Harmanpreet hizo a las mujeres jugador de críquet

चंडीगढ़| पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के लगातार प्रयासों के चलते भारतीय रेलवे से जॉब छोड़ने के बाद क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर ने आज पंजाब पुलिस में बतौर डीएसपी पद संभाल लिया जिसके बाद पंजाब के डीजीपी सुरेश अरोड़ा तथा पंजाब के सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने उन्हें स्टार लगाए।

बता दें कि हरमनप्रीत रेलवे में जॉब कर रही थी जिसे छोड़ने पर रेलवे ने शर्त रखी थी कि उन्हें बांड के रूप में 27 लाख रुपए अदा करने पड़ेंगे जिसके बाद राज्य सरकार ने बांड के छूट के बारे में रेलवे से एक औपचारिक संपर्क प्राप्त किया है और हरमन को पदभार ग्रहण करवाया।

रेलवे ने मांगे थे 27 लाख
इससे पहले हरमनप्रीत ने बताया था कि इस्तीफे को स्वीकार करने लिए रेलवे ने 27 लाख रुपए मांगे हैं। हरमन ने कहा था कि मैंने यहां 3 साल काम किया है, लेकिन रिलीव करने के लिए वे मुझसे 5 साल की सैलरी जमा कराने के लिए बोल रहे हैं। विश्व कप की वजह से उसे 5 महीने की सैलेरी भी नहीं मिली थी। हरमन ने अक्टूबर में डीएसपी पद जॉइन करना था लेकिन रेलवे से सहमति नहीं मिली थी।

पंजाब सीएम ने लिखा था रेल मंत्री को पत्र
इस बारे में पंजाब के मुख्यमंत्री ने केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर इस स्टार खिलाड़ी को रिलीव करने का निवेदन किया था। उन्होंने कहा, था’हरमन किसी प्राइवेट सेक्टर के लिए नौकरी नहीं छोड़ रही हैं। बस वह केंद्र सरकार की नौकरी छोड़कर राज्य सरकार की नौकरी जॉइन कर रही हैं। यह उनके भविष्य के लिए बेहतर होगा।’

DSP en Punjab, Harmanpreet hizo a las mujeres jugador de críquet

कैप्टन अमरेंद्र ने केंद्रीय मंत्री पियुष गोयल को उनके अनुरोध को स्वीकार करने के लिए धन्यवाद किया। प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने व्यक्तिगत रूप से मंत्री के साथ इस मामले को उठाया और उन्हें हरमनप्रीत को डीएसपी पद लेने के लिए रेलवे से इस्तीफा देने को कहा।

मुख्यमंत्री ने महिला विश्व कप 2017 में शानदार प्रदर्शन के बाद पिछले साल जुलाई में हरमनप्रीत को उप-पुलिस अधीक्षक (डीएसपी) पद की पेशकश की थी। तब से इस युवा लड़की ने विभिन्न टूर्नामेंटों में कई शानदार प्रस्तुतियां दी।