गुरुकुलों को अन्नदान किया अ.भा. युवा ब्राह्मण समाज ने

Gifted the Gurukulans Young Brahmin Samaj
उज्जैन। नगर में जो गुरुकुल संचालित किए जा रहे हैं, उन्हें सहयोग करने का संकल्प लिया है। उस संकल्प के प्रथम सोपान में दो गुरुकुलों को अन्नदान दिया गया, जिससे विद्या अध्ययन करने वाले बटुकों को भोजन व अध्ययन में किसी भी प्रकार की कठिनाई न आए। युवा ब्राह्मण समाज की तीसरी बैठक में १५ गुरुकुलों के गुरुजन उपस्थित हुए। युवा ब्राह्मण समाज का यह लक्ष्य है कि गुरुकुल से निकलने वाला हर विद्यार्थी आचार्य चाणक्य के समान नितीज्ञ हो तथा परशुराम भगवान जैसे अपार साहस हो। देश में ब्राह्मणों पर संकट खड़ा किया जा रहा है, उसे शास्त्रार्थ एवं अपने पराक्रम से विजय प्राप्त कर सके। यह विचार संस्थापक अध्यक्ष महेश पुजारी के गुरुजन एवं विद्यार्थियों के समक्ष प्रस्तुत किए। जानकारी अ.भा. युवा ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष अर्पित पुजारी ने दी। बैठक में निम्न गुरुजन एवं युवा उपस्थित थे। इस अवसर पर राकेश शर्मा शारदा विद्यापीठ, मयूर चतुर्वेदी सीताराम वैदिक संस्कृत पाठशाला, मोहन शर्मा चारधाम विद्यापीठ, पं. चंदन वैष्णव परशुराम विद्यालय भैरवगढ़ एवं अवन्तिका विद्यापीठ, दंडीस्वामी आश्रम जसराज शर्मा, रूपेश मेहता, शुभम पण्ड्या, सुरेश शर्मा, रमेश वाधवानी, मुकेश अग्रिहोत्री, ओम तिवारी, मुकुल जोशी, राजेश, अजय जोशी, जगदीश व्यास आदि उपस्थित थे। आभार वासुदेव शास्त्री एवं मनीष उपाध्याय ने माना। १९ अगस्त को पुन: रामराज्य गौशाला में शाम ८ बजे बैठक रखी गई।