जेम्स पब्लिक स्कूल को आईसीएसई से मान्यता मिली

Sushmita Mukherjee's play 'Naribai' staged on 28th

‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ को ‘‘आईसीएसई’’ से मान्यता मिली
इंदौर । ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ (आगरा-मुंबई बायपास स्थित) को आईसीएसई (इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन) बोर्ड से मान्यता प्राप्त हो गई है। ये बोर्ड ‘‘आईसीएसई’’ 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा आयोजित करता है। ‘‘आईसीएसई’’ इस स्कूल के शिक्षा दृष्टिकोण और भविष्य की रुपरेखा को स्पष्ट करता है। मार्केट रिसर्च के मुताबिक इंदौर में आईसीएसई स्कूल की आवश्यकता बहुत स्पष्ट रूप से उभरकर सामने आई है।
इस अवसर पर जेम्स एजुकेशन इंडिया के सीईओ श्री भावीक अंजारिया एवं जेम्स पब्लिक स्कूल इंदौर की सीनियर प्रिंसिपल सुश्री शाहीन शफी भी मौजूद थी। James Public School received recognition from ICSE
प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए जेम्स एजुकेशन इंडिया के सीईओ श्री भावीक अंजारिया ने बताया कि ‘‘आईसीएसई’’ बोर्ड दुनियाभर में विशेष रूप से विदेशी स्कूलों और विश्वविद्यालयों द्वारा मान्यता प्राप्त है। इस बोर्ड में अंग्रेजी पर जोर देने के कारण छात्रों को ‘‘टॉफेल’’ जैसी परीक्षाओं में अन्य छात्रों की तुलना में अग्रणी रखता है। इसकी पढाई की पद्धति वास्तविक जीवन की अवधारणाओं पर आधारित है जो प्रभावी ढंग से पाठ्यक्रम को समझने के लिए अवसर प्रदान करती है। ‘‘आईसीएसई’’ बोर्ड में कक्षा-12 में चुनने के लिए बहुत से विषय हैं। शैक्षणिक पाठ्यक्रमों के बजाए रूचि पर आधारित व्यावसायिक पाठ्यक्रम लेने का भी विकल्प है।
‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ इंदौर दुबई की ‘‘जेम्स एजुकेशन ग्रुप’’ का एक हिस्सा है जो कि दुनिया की सबसे बड़ी ग्रेड-12 स्कूल एजुकेशन संस्था है। शिक्षा के क्षेत्र में इस ग्रुप को 55 सालों का अनुभव प्राप्त है। ये ग्रुप 14 देशों के 250 से अधिक स्कूलों के नेटवर्क के साथ दुनिया में केजी से ग्रेड -12 तक के कई बड़े स्कूलों को संचालित करता है। ‘‘जेम्स’’ मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीका, अमेरिका, एशिया-पैसिफिक, यूरोप और भारत सहित दुनिया के छः क्षेत्रों में बड़े इंटरनेशनल स्कूलों का स्वतंत्र संचालन कर रहा है।
‘‘जेम्स एजुकेशन’’ 1959 में केएस वार्की और उनकी पत्नी मरियमा द्वारा स्थापित किया गया था। आज ‘‘जेम्स एजुकेशन ग्रुप’’ हर किसी के लिए गुणवत्ता वाली शिक्षा प्रदान करने के मिशन के साथ एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी बन गया है। सनी वार्की जेम्स ग्लोबल के समूह के चेयरमैन और वार्की फाउंडेशन के संस्थापक हैं। इस स्कूल ग्रुप को सही मायनों में 21वीं सदी का स्कूल कहा जा सकता है। इस ग्रुप के स्कूलों से अभी तक 176 देशों के 2 लाख 70 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स निकले हैं, जिन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा को साबित किया है।
‘जेम्स इंडिया ग्रुप‘ के प्रेसीडेंट श्री अमरीश चंद्रा ने मीडिया के साथ अपना एक विशेष संदेश साझा किया:
‘जेम्स एजुकेशन ग्रुप‘ से सम्बद्ध जेम्स पब्लिक स्कूल इंदौर की सफलता और उपलब्धि की घोषणा करते हुए मुझे बहुत खुशी हो रहे है। ‘जेम्स पब्लिक स्कूल, इंदौर अब आईसीएसई बोर्ड से संबद्ध हो गया है। सभी पेरेंट्स, स्टूडेंट और हमारे एसोसिएट पार्टनर्स के लिए ये एक सफलता है और यह बेहद खुशी का दिन है। इस उपलब्धि के साथ अब हम निश्चित रूप से हमारे स्कूल को क्वालिटी एजुकेशन के मामले में पूरे देश में स्थापित कर सकेंगे। एक बार फिर मैं इस संबद्धता के लिए स्कूल को बधाई देना चाहूंगा और यह सुनिश्चित करूँगा कि वास्तव में हमारी देखरेख में स्टूडेंट्स की प्रतिभा उभरकर सामने आएगी!

प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए जेम्स पब्लिक स्कूल इंदौर की सीनियर प्रिंसिपल सुश्री शाहीन शफी ने बताया कि ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ का पाठ्यक्रम दुनियाभर की शिक्षा प्रणालियों को समझकर तैयार किया गया है। ‘‘जेम्स ग्रुप’’ को ग्लोबल स्कूल नेटवर्क को भारतीय, यूके के ईवाईएफएस (आठ वर्षीय फाउंडेशन स्टेज) आईबी, अमेरिकी, कनाडियन, ब्रिटिश, फ्रेंच और अरबी जैसे 8 पाठ्यक्रमों के शिक्षण का अनुभव है। इस स्कूल ने अपनी शिक्षा प्रक्रिया में अपने श्रेष्ठ अभ्यासों को एकीकृत करते हुए स्टूडेंट्स के लिए पाठ्यक्रम का आधुनिक ढांचा तैयार किया है। ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ के साथ स्टूडेंट्स को विश्व स्तर पर जुड़ने का अवसर मिलता है। साथ ही सीखने के साथ जानने की जिज्ञासा और चिंतन व्यक्तित्व का निर्माण होता है।
इंदौर के ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ में स्टूडेंट्स को पर्सनल अटेंशन दिया जाता है। इस ग्रुप का शिक्षा दृष्टिकोण छात्र-केंद्रित और गतिविधियों पर आधारित है, ताकि उसमे प्रत्येक स्टूडेंट्स व्यक्तिगत पढाई की शैली को समायोजित किया जा सके। इंदौर का ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ ऐसी तकनीक द्वारा संचालित है, जो स्टूडेंट्स और टीचर्स दोनों को ग्लोबल नेटवर्क से जोड़े रखता है। टीचर्स को जीवनभर सीखने के लिए प्रेरित किया जाता है। ‘‘जेम्स ग्रुप’’ द्वारा टीचर्स को शिक्षा में आने वाले नए बदलाव से अवगत करने के लिए उन्हें ट्रेनिंग प्रोग्राम से जोड़े रखा जाता है।
हमारे स्टूडेंट्स सर्वश्रेष्ठ टीचर्स से जीवन के सबक सीखते हैं। हमारा निरंतर प्रयास पेरेंट्स की भूमिका को सुविधाजनक बनाने का है। साथ ही हमारा उद्देश्य स्टूडेंट्स को सजग रहने, हाई-ग्रेड प्राप्त करने, सीखने की क्षमता को लगातार बढ़ाने, उसकी सोशल स्किल का उपयोग करके उसे एक जिम्मेदार नागरिक बनाने में सहायता करना है। पेरेंट्स, स्टूडेंट्स और हमारे बीच का ये सहयोगपूर्ण रिश्ता हमारे कार्यक्रम का मुख्य भाग हैं।
जहाँ तक ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ इंदौर की सुविधा की बात है तो यहाँ सुसज्जित ऑडियो विजुअल रूम है जिसके जरिए पढाई को ऑडियो विजुअल कम्युनिकेशन की गहन पद्धति से आसान बनाया गया है। यहाँ की लैबोरेटरी नवीनतम प्रोसेसर के साथ पर्याप्त मशीनों से सुसज्जित है। स्कूल की लाइब्रेरी वह जगह है, जहां ज्ञान का सागर है। छात्र को यहाँ किताबों के इस अथाह सागर से खुद के लिए जरुरी ज्ञान खोजना पड़ता है। स्कूल का ‘‘वाईफाई कैंपस’’ स्टूडेंट्स को स्कूल में कहीं से भी जानने के लिए सुविधा प्रदान करता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

CAPTCHA