उज्जैन न्यूज़मध्य प्रदेशराजनीति न्यूज़

सांसद की मांग पर तीन ट्रेनों के संचालन की मिली हरी झंडी

सांसद  अनिल फिरोजिया ने डीआरएम के साथ विकास कार्यो का निरीक्षण किया
उज्जैन-फतेहाबाद गेज परिवर्तन और उज्जैन-देवास-इंदौर रेल पथ
दोहरीकरण के काम को तेज करने के निर्देश दिए

उज्जैन । सांसद  अनिल फिरोजिया ने रेलवे डीआरएम  विनीत गुप्ता के साथ उज्जैन को गति देने वाले विकास कार्यो का मैराथन निरीक्षण किया। लगभग पांच घंटे तक चले इस दौरे के दौरान सांसद  अनिल फिरोजिया ने उज्जैन फतेहाबाद गेज परिवर्तन, उज्जैन-देवास-इंदौर रेलमार्ग दोहरीकरण सहित अन्य कार्यो का निरीक्षण किया। इस दौरान डीआरएम ने उज्जैन फतेहाबाद व उज्जैन-देवास-इंदौर मार्ग दोहरीकरण के कार्य को कड़छा तक अक्टूबर माह तक पूरा करने की बात कही है।
मंगलवार को सांसद  अनिल फिरोजिया ने रेलवे डीआरएम  विनीत गुप्ता के साथ सुबह 11 बजे से विकास कार्यो का निरीक्षण किया। इस दौरान रेलवे सलाहकार श्री महेंद्र गादिया सहित अन्य लोग शामिल रहे। सबसे पहले सांसद चिंतामण गणेश रेलवे स्टेशन पर पहुँचे। यहां सांसद श्री फिरोजिया ने कुछ माह पहले जो कमियां बताई थी, दौरे के दौरान उनका निराकरण नजर आया। इसके बाद विक्रम नगर रेलवे स्टेशन और उसके बाद कड़छा रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया गया।
सांसद की मांग पर तीन ट्रेनों के संचालन की मिली हरी झंडी
दौरे के पहले सर्किट हाउस पर अयोजित बैठक में डीआरएम ने जानकारी देते हुए सांसद  अनिल फिरोजिया को बताया कि उनके द्वारा की गई मांग पर इंदौर-मुम्बई अवंतिका एक्सप्रेस, इंदौर-नईदिल्ली इंटरसिटी एक्सप्रेस व इंदौर-हावड़ा शिप्रा एक्सप्रेस के रैक को स्टैंडबाय रखने के निर्देश मीले है। संभावना है कि ये तीनो ट्रेनें सप्ताहभर में चलाई जा सकती है।
सिहंस्थ की दृष्टि से बनाया विक्रम नगर स्टेशन को आधुनिक
विक्रम नगर स्टेशन को सिंहस्थ की दृष्टि से आधुनिक बनाया गया है। यहां का फुट ओवर ब्रिज भी 6 मीटर चौड़ा बनाया गया है। साथ ही अन्य कार्यो को भी सिंहस्थ में आने वाले क्राउड के मद्देनजर किया गया है।
उज्जैन रेलवे स्टेशन पर 7 नम्बर नया प्लेटफार्म का काम दिसम्बर तक पूरा हो जाएगा। जबकि 8 नम्बर प्लेटफार्म को अब नागदा को ओर लिंक किया जाएगा। इन दो नए प्लेटफार्म का फायदा ये होगा कि ट्रेनों के स्टेशन पर खड़े होने के कारण यहां पहुँचने वाली अन्य ट्रेनों को आउटर पर रोकना पड़ता था। इन दोनों के बनने के ये परेशानी कम हो जाएगी।
चिंतामण गणेश रेलवे स्टेशन पर लोगों ने बताया कि स्टेशन के पास से गुजर रहे नाले के कारण कुछ किसानों की फसल खराब हो रही थी। सांसद  के सामने शिकायत आने के बाद डीआरएम ने इसका निराकरण करने के आदेश देते हुए पानी की निकासी करने की बात कही है।
लेकोडा टंकरिया रेलवे स्टेशन पर बने अण्डर ब्रिज में पानी भर जाने व रास्ते की मांग की। इसके भी निराकरण की बात डीआरएम ने कही है। बाद विक्रम नगर रेलवे स्टेशन के पास रेलवे द्वारा नाला खोदने के कारण अलकापुरी कॉलोनी में जलभराव हो रहा था। लोगों ने इसकी शिकायत सांसद को की। डीआरएम ने इसे भी ठीक कर लोगों को परेशानी से बचने के निर्देश दिए हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button