अंतरराष्ट्रीय न्यूज़उज्जैन न्यूज़क्राइम न्यूज़खुलासाटॉप न्यूज़मध्य प्रदेशराष्ट्रीय न्यूज़सामाजिक न्यूज़

Live : एक पति ने कहा मेरी पत्नी है लूटेरी दुल्हन…जाने पूरी कहानी रिश्ते हुए तार-तार

 

डिप्रेशन में कोठरी,  एसपी ,कलेक्टर को चेतावनी… कहा में लुटेरी दुल्हन के चुंगल  में फसा हु…मुझे बचा लो वरना  आत्मदाह कर लूंगा…

नगर निगम के अधिकारी कर्मचारी से बताए पत्नी के अवैध संबंध…एक पत्रकार से भी जोड़ा नाम।

पत्नी ने अपने पक्ष में कहा पति की मेरे प्रति है खराब मानसिकता…. नही हु में कोई लुटेरी दुल्हन, उल्टा मेरे साथ मारपीट करके करता है मुझे प्रताड़ित।
कई थानों में मारपीट के है, कोठारी पर प्रकरण दर्ज, जिसके साथ मुझे खड़ा देख लेता है, उससे जोड़ देता है नाजायज रिश्ता।

उज्जैन। शहर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते आंकड़ो के बीच नानाखेड़ा थाने में पुलिस के 4 जवानों ने काफी सुर्खियां बटोर रखी है, पैसा कमाने का तरीका फिल्मी था। मामला सामने आने के बाद इस खबर ने काफी सुर्खियां भी बटोरी जिसके बाद शहर की जनता ने जाना कि कैसे पुलिस अवैध तरीके से पैसा कमाती है। 
एक ऐसा ही मामला आज फिर चर्चा बन गया है मगर यहाँ जिक्र पुलिस का नही बल्कि एक ऐसे पति का है जिसने अपनी  पत्नी को लूटरी दुल्हन की उपाधी दे दी।
सकीले पति ने पीटा
सकीले पति ने पीटा
अपनी आप बीती सुनाते हुए लूटरी दुल्हन का शिकार बने  नारायण अपार्टमेंट तिवारी मार्ग सखीपूरा के निवासी पीड़ित देवेंद्र कोठारी  पिता इंदरमल कोठारी ने पत्रकार वार्ता लेते हुए पत्रकारों को बताया कि वे इन दिनों लुटेरी दुल्हन के शिकार है, और वे सोना चांदी की दलाली का काम करते है, 2003 में उनकी पहली शादी राजगढ़ में संगीता जैन से हुई, जिससे इन्हें दो बच्चे भी है  16 वर्ष का एक बेटा व 09 वर्ष की एक बेटी 2016 में देवेन्द्र कोठरी की पत्नी संगीता जैन कैंसर की बीमारी ने उनकी पत्नी की जान ले ली। 
 एक पति ने कहा मेरी पत्नी है लूटेरी दुल्हन...जाने पूरी कहानी रिश्ते हुए तार-तार
एक पति ने कहा मेरी पत्नी है लूटेरी दुल्हन…जाने पूरी कहानी रिश्ते हुए तार-तार
जिसके बाद देवेंद्र डिप्रेशन में आ गए और कुछ समय बाद कोठारी ने 2017 में  पुनः विवाह कर लिया अपने बच्चों के लालन पोषण के लिए व अच्छी जीवन संगनी की आस में है तब उनकी एक महिला मित्र ने उनकी पहचान अपनी मित्र  जीवाजीगंज निवासी मिना से करवा दी क्योकि मीना कभी माँ नही बन सकती थी और देवेन्द्र भी ऐसी ही महिला की तलाश में थे जो उनकी पहली पत्नी के बच्चो को अपना मान कर उनके साथ रहे, थोड़े दिनों के बाद दोनों ने चिंतामन मंदिर में विवाह कर लिया। मीना पहले से शादीशुदा थी  देवेंद्र को उसने यह बता रखा था कि पहले पति से उसका तलाक हो चुका है। वह जाति से  ब्राह्मण हैं, और अब उसका कोई जीवित रिश्तेदार नही बचा है। इन सब बातों का विश्वास दिलाते हुए यह शादी हो गई। मगर कुछ समय बाद पता चला कि मिना ने देवेंद्र से झूठ बोला है, एक तो वह जाति से ब्राह्मण नहीं बलाई है,बाद में थोड़ी ओर जानकारी एकत्रित करने के बाद पता चला कि इसकी शादी पहले भी कई बार  और हो चुकी है। और यह लुटेरी दुल्हन के नाम से  क्षेत्र में प्रचलित भी है। जब इन सब बारे में  देवेंद्र ने पत्नी रीना से बात की तो  वह घर छोड़कर चली गई व कुछ समय बाद फिर  रिना थोड़े-थोड़े में समय के लिए घर आती जाती और घर मे रखे सोना चांदी जेवर नगदी रखे पैसे लेकर फिर गायब कर जाती पूछने पर धमका देती कि तेरे बच्चों के साथ कुछ गलत काम करवा कर तुझे फंसा दूंगी। जब इन सब बातों को लेकर हमने देवेंद्र की पत्नी मीना से बात करी तो उसने बताया कि ऐसी कोई बात नही हुई मेरी जाती बलाई है और मेने ये कभी नही छुपाया और जहाँ तक शादी की बात है तो हा मेरी तीन शादी हुई है पहली 14 वर्ष की उम्र में पिता ने कर दी थी जो शराब का आदि था जिसे मेने छोड़ दिया बाद में पिताजी ओर परिवार ने मेरी फिर शादी करवाई जिसमे मुझे बच्चे नही होने के कारण पति ने निकाल दिया जिसके बाद देवेंद्र कोठरी से मेरी शादी हुई है। और में कोई लूटरी दुल्हन नही हु अगर में ऐसी होती तो मेरे पुराने पति थाने में मेरी एफआईआर दर्ज करवाते में तो देवेंद्र के बच्चों को अपना मान कर आगे का जीवन जीने की सोच रही हु। मगर पति कोठरी आए दिन मुझे मारता पीटता है व घर मे मुझे काम वाली बाई बनाकर रखता है, जिसके बाद में अब अपने पिता के साथ रह कर गुजारा कर रही हु मगर फिर भी आए दिन मेरे घर आकर गाली गुप्ता पति करता है। जिसका पूरा मोहल्ला गवाह है।
 एक पति ने कहा मेरी पत्नी है लूटेरी दुल्हन...जाने पूरी कहानी रिश्ते हुए तार-तार
एक पति ने कहा मेरी पत्नी है लूटेरी दुल्हन…जाने पूरी कहानी रिश्ते हुए तार-तार
पति ने नगर निगम के अधिकारी कर्मचारी से भी बताए पत्नी के अवैध संबंध।
पति देवेन्द्र ने अपनी पत्नी पर कई आरोप लगाते हुए बताया कि उसकी पत्नी  और नगर निगम के बाबू ने उसे धमकाया है कि उसे वे 10 लाख रु दे दे, वरना वे उसे जान से मारकर  बेटे को हिजड़ा व नाबालिग बेटी के साथ बलात्कार करवा देंगे। साथ ही  की कई बार देवेंद्र ने शिकायत भी की मगर कोई कार्यवाही पुलिस ने नही की, मगर मीना  जैसे तैसे  झूठी शिकायत  पुलिस को कर दे तो पुलिस  कारवाही करने आ जाती है। 
 इस तरह से साफ मुझे लगा कि पुलिस का झुकाव मिना की तरफ ही है। इसी बीच एक बार मेरे घर पर रीना किसी गैर मर्द के साथ  मेरी बेटी के साथ कुछ असामाजिक कृत्य करने की फिराक में थी जिसके बाद इन सब चीजों से तंग आकर  मैंने  आत्महत्या करने का प्रयास किया तब जाकर पुलिस ने मिना व साथ वाले के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज की जिसके राजीनामे के लिए मीना लूटरी दुल्हन अपने पत्रकार साथी के साथ मिलकर मुझे पर दबाव बना रही है।
जिस पर मीना ने बताया कि मेरे पिता की मेरे अलावा कोई संतान नही है, एक भाई था जिसकी भी मौत हो चुकी है, अब नानी व उसके पिता उसपर आश्रित है, जिसके चलते प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेने में नगर निगम जाकर अधिकारी कर्मचारी से अपना काम करवाने जाती हु तो पति शंका करता है कि मेरा उनसे कोई चक्कर है जिसके चलते उसने योजना से बन रहे मकान का भी काम रुकवा दिया। अब फिलहाल में मेहनत करके अपना गुजारा कर रही हु मगर पति मुझे कुछ समय के लिए साथ रखने का दबाव बना कर ये सब कृत्य कर रहा है जिसके में पूर्व में भी एसपी कलेक्टर को शिकायत कर चुकी हूं।
लूटरी पत्नी दुल्हन के चक्कर मे सड़क पर आ गया हूं।
 देवेंद्र कोठारी ने बताया कि रीना पूर्व में तकरीबन छह विवाह कर कई लोगों के साथ धोखाधड़ी कर लुटेरी दुल्हन बन कर उन्हें लूट चुकी है! और मुझे भी लूट लिया है घर से नगदी व मेरे सोने चांदी व्यवसाई के जेवरात लूटकर वह ले जा चुकी है मेरी दुकान भी  बिकवा दी है।
विगत 3 वर्षों से प्रताड़ित इस लूटरी दुल्हन के सबूत भी देवेन्द्र कोठारी के पास उपलब्ध है, व मीडिया के माध्यम से प्रशासन व पुलिस अधीक्षक को चेतावनी दी  है। वरना वे 7 दिन के भीतर अगर उनकी सुनवाई पर लूटरी दुल्हन पर कोई कार्यवाही नही होती है तो अपने बच्चों सहीत  मुख्यमंत्री के निवास पर जाकर आत्मदाह कर लेंगे।
Tags

Related Articles

Back to top button