उज्जैन न्यूज़प्रशासनिक न्यूज़

कोरोना के कहर के बीच पीने के पानी के लिए जूझ रहे शहरवासी

नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र वशिष्ठ ने निगमायुक्त को पत्र लिखकर जल व्यवस्था दुरूस्त करने की मांग की-कहीं मटमैला पानी आ रहा तो कहीं नल ही नहीं आ रहे, कहीं 10 से 15 मिनिट चल रहे नल
उज्जैन। कोरोना के कहर के बीच शहरवासियों को अब जलसंकट से भी जूझना पड़ रहा है। शहर के कई हिस्सों में लोगों को जलसंकट का सामना करना पड़ रहा है। नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र वशिष्ठ ने निगमायुक्त ऋषि गर्ग को पत्र लिखकर वार्ड 52, वार्ड 54 तथा पंवासा के क्षेत्रों में हो रही पानी की किल्लत से अवगत कराया। साथ ही शहर के अन्य वार्डों का हवाला देते हुए कहा कि पानी की व्यवस्था सुचारू करें, अन्यथा लोग पानी के लिए घरों से निकले तो महामारी के इस संकट काल में जलसंकट कोरोना को हवा देने के समान होगा।
दरअसल नागझिरी से जगदीश मालवीय एडवोकेट, मो. हुसैन, नेहरू नगर से जितेन्द्र पांचाल, गणेश नगर से रईस मंसूरी के साथ क्षेत्र के रहवासियों ने नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र वशिष्ठ को इन क्षेत्रों में उपज रहे जलसंकट के बारे में शिकायत की थी तथा समस्या के जल्द निराकरण की गुहार लगाई थी। क्षेत्रों की वस्तु स्थिति जानने के बाद नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र वशिष्ठ ने निगमायुक्त को पत्र में लिखा कि पिछले 8-10 दिनों से शहर के कई हिस्सों में नल नहीं आ रहे हैं और आते भी हैं तो उसका प्रेशर बहुत कम आता है। इस पर केवल 10 से 15 मिनिट नल चल रहे हैं। वार्ड में पानी को लेकर लोगों की शिकायतें सामने आने लगी है। नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र वशिष्ठ ने बताया कि नगर निगम के वार्ड 52 दमदमा अंतर्गत आने वाले गांधीनगर में पिछले कई दिनों से नलों में पानी कम आ रहा है जिसके कारण पीने के पानी का संकट बड़ गया है।
साथ ही निर्माण नगर, रविन्द्र नगर, दमदमा आदि क्षेत्रों में नलों से अत्यंत ही पीले रंग का मटमैला, बदबूदार पानी आ रहा है। क्षेत्रवासी पानी की कमी से जूझ रहे हैं। निगमायुक्त से मांग की कि गांधीनगर की पानी की टंकी पूर्ण रूप से भरवाने के निर्देश प्रदान करें ताकि क्षेत्रवासियों को पीने के पानी की समस्या उत्पन्न न हो। इसके अलावा नागझिरी, गणेशनगर, नेहरू नगर में भी पानी की समस्या बढ़ रही है। पानी न मिलने के कारण लोग पानी के लिए घर से बाहर निकल रहे हैं।
इस समय कोरोना महामारी फैली हुई है और अगर लोग पानी के लिए घर से निकलेंगे तो उक्त महामारी फैलने का कारण बन सकती है। कोरोना संकट से जूझते नागरिक अब पानी की समस्या से बेहाल हैं। वहीं पंवासा में बजरंग नगर, अचार फैक्ट्री, अमृतनगर, त्रिवेदी कॉलोनी में, शंकरपुर, पंवासा के कई क्षेत्रों में कहीं नल नहीं आ रहे और कहीं आ रहे हैं तो केवल कुछ समय के लिए ही चल रहे हैं। राजेन्द्र वशिष्ठ ने कहा कि एक ओर गरीब लोगों को राशन उपलब्ध नहीं हो पा रहा वहीं दूसरी ओर पीने के पानी के लिए भी तरस रहे हैं। आयुक्त से निवेदन किया है कि इन समस्याओं का शीघ्र निराकरण करें, तत्काल पानी उपलब्ध कराएं।
Tags

Related Articles

Back to top button