उज्जैन न्यूज़
Trending

कार्तिक मेले में पार्षद पुत्र की गुंडागर्दी।

महिला और पत्रकार को खुलेआम धमकी।

राजनैतिक रसूख दिखाकर गुंडागर्दी कैसे की जा सकती है,इसके नजारा कार्तिक मेले में देखने को मिल रहा है। कार्तिक मेले में झूले लगाने वाली एक महिला राजनीतिक गुंडागर्दी का शिकार होकर पुलिस से गुहार लगा रही है कि उसे न्याय मिले।

दरअसल

प्रतिवर्ष शिप्रा के तट पर होने वाले कार्तिक मेले में झूला एवम मौत का कुआं संचालित करने वाले व्यवसायिक व्यापारियों में जगह आवंटन को लेकर विवाद का मामला सामने आया है। जिसमें पीड़ित कुसुमलता पति अशोक कुमार महेश्वरी रिंग रोड नानाखेड़ा निवासी ने आरोप लगाते हुए बताया कि झूला व्यवसायिक पूर्व पार्षद का बेटा मनीष पिता तेजू बाबा निवासी बलाईवड़ा गंजी कार्तिक मेला ने उनकी आवंटित जगह पर जबरन कब्जा जमाते हुए झूले का सामान पटक दिया और गाली गलौज के साथ गुंडागर्दी को उतारू है।

 

इसकी शिकायत आज महिला ने महाकाल थाना पुलिस को भी की है , वही महिला का बताना है, कि वह उस जगह पर उसके परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मौत का कुआं संचालित करते हुए करीब 50 वर्षों से व्यवसाय करके परिवार का लालन पोषण करते हैं, पति हार्ट पेशेंट है, लेकिन अब जबरन ही मनीष जगह पर कब्जा कर रहा है जबकि नगर निगम ने उन्हें यह जगह आवंटित कर रखी है।

क्या है पूरा मामला

महिला ने बताया कि पूर्व में तेजू बाबा (जो अब जीवित नहीं है) के साथ वह पार्टनरशिप में उसी जगह पर साथ में मिलकर मौत का कुआं संचालित करते थे। लेकिन अब आपस में पार्टनरशिप नहीं रही जिसके चलते वह अब अपना अलग थलग व्यवसाय करना चाहते हैं, लेकिन मनीष उनके मौत के कुएं लगाने वाली जगह पर छल कपट की भांग घोलने का काम कर रहा है, या यू कहे आवंटित जगह पर बल पूर्वक कब्जा जमाना चाह रहा है। जबकि विगत 50 वर्षों से कार्तिक मेले मैं वह झूला और मौत का कुआं संचालित कर रहे है।

 

अन्य झूला व्यापारियों ने भी कर रखी है मनीष की शिकायत।

 

कार्तिक मेला ग्राउंड में लगने वाले मेले मैं मनीष पिता तेजू बाबा की दर्जनों शिकायतें कलेक्टर व निगम आयुक्त को पहले से ही पहुंच चुकी है, बताया जा रहा है कि वह मेले में झूला व्यापारियों के साथ गुंडागर्दी करते हुए ही उन्हें डरा धमका भी है जिसके चलते सभी झूला व्यापारियों ने मिलकर उसकी शिकायत पूर्व में ही कर रखी है।

मनीष के गुंडे पहुंचे पत्रकारों को धमकाने

वही पूरे घटनाक्रम की जानकारी एकत्रित करने जब मीडिया कर्मी कार्तिक मेला ग्राउंड पर पहुंचे तो मामला अपने आप ही चरितार्थ हो गया की असल मामला क्या है, कवरेज कर रहे मीडिया कर्मी को धमकाते हुए एक युवक ने पत्रकारों को ही धमका दिया और कहने लगा कि यहां से अपनी जान की खेर चाहते हो तो निकल जाओ जिसके चलते पत्रकारों ने एकजुटता का परिचय देते हुए इस बदमाश की बत्ती रोशन कर दी जिसके चलते बदमाश मौके से भाग गया वही पत्रकारों ने उस बदमाश की गिरफ्तारी के लिए थाने में आवेदन के साथ ही महिला की मदद की बात  भी रखी है।

Back to top button