उज्जैन न्यूज़क्राइम न्यूज़

रहवासियों ने पार्षद द्वारा किये जा रहे अवैध कब्जे के खिलाफ अधिकारियों के सामने लगाई गुहार-गुलाब के फूल भेंटकर गांधीवादी तरीके से जताया विरोध


बगीचे की जमीन पर से जब झोन कार्यालय हटाना पड़ा तो व्यायामशाला के नाम पर अवैध कब्जा कैसे टिका है
शहर सरकार आपके द्वार में शास्त्रीनगर के रहवासियों ने पार्षद द्वारा किये जा रहे अवैध कब्जे के खिलाफ अधिकारियों के सामने लगाई गुहार-गुलाब के फूल भेंटकर गांधीवादी तरीके से जताया विरोध

उज्जैन। पार्षद विजयसिंह दरबार द्वारा वार्ड 46 स्थित पंडित गिरजा शंकर व्यास उद्यान शास्त्री नगर गली नंबर 5 में जहां व्यायामशाला के नाम पर अवैध कब्जा किया जा रहा है, उसी के सामने बगीचे में ही शहर सरकार आपके द्वार शिविर लगा। यहां क्षेत्रीय रहवासी पहुंचे और मौके पर ही अधिकारियों को गुलाब के फूल भेंटकर कहा कि जब बगीचे की जमीन पर बना झोन कार्यालय नगर निगम नहीं बचा पाई तो फिर व्यायामशाला के नाम पर बगीचे की जमीन पर कब्जा कैसे बरकरार है। मौके पर पहुंची पार्षद रिंकू दीपक बेलानी ने भी अधिकारियों के सामने कहा कि हमने नगर निगम से ओपन जिम की स्वीकृति ली और बनवाया भी, बगीचे में भवन की जानकारी हमें नहीं और न हमने इसके लिए कोई पैसा स्वीकृत करवाया।
दरअसल पार्षद विजयसिंह दरबार द्वारा किये जा रहे कब्जे के खिलाफ रहवासियों ने कलेक्टर, एसपी, निगमायुक्त को शिकायत विगत दिवस की थी। पिछले 15 से 20 वर्षों से व्यामशाला के नाम पर शासकीय बगीचे में पूर्व पार्षद जयसिंह दरबार द्वारा कब्जा किया हुआ है अब इसके पास ही खाली पड़ी भूमि पर उनके छोटे भाई वार्ड क्रमांक 47 के पार्षद विजयसिंह दरबार द्वारा निर्माण कार्य प्रारंभ कर कब्जे का प्रयास किया जा रहा है। रहवासियों द्वारा मामले की शिकायत श्रीराम चैतन्य बाल हनुमान जनकल्याण समिति सचिव एवं शहर कांग्रेस उपाध्यक्ष अर्जुनसिंह राठौर को की थी। जिसके बाद समिति के बैनर तले रहवासियों ने कलेक्टर, एसपी तथा निगमायुक्त को शिकायत की थी। समाजसेवी धनराज गेहलोत ने बताया कि शनिवार को लगे शहर सरकार आपके द्वार शिविर में गांधीवादी तरीके से रहवासियों ने अधिकारियों को फूल भेंटकर अपना विरोध जाहिर किया। अर्जुनसिंह राठौर के नेतृत्व में पहुंचे रहवासियों ने कहा कि जब नगर निगम के बगीचे में बने झोन कार्यालय को नगर निगम को हटाना पड़ा तो व्यायामशाला के नाम से अवैध कब्जा कैसे फल फूल रहा है। पार्षद रिंकू दीपक बेलानी भी मौके पर पहुंची और कहा कि निगम अधिकारियों को यह अच्छी तरह मालूम है की बगीचे में किसी भी भवन के लिए राशि नहीं दी जाती है फिर भी कुछ अधिकारियों ने बगीचे में व्यायामशाला के नाम पर राशि स्वीकृत की। जबकि वर्तमान पार्षद मद से पहले ही ओपन जिम की सामग्री लगाई गई है फिर भी वार्ड 47 के पार्षद विजय सिंह दरबार खुले बगीचे में व्यामशाला के नाम पर कब्जा कर रहे हैं। अर्जुनसिंह राठौर के नेतृत्व में ज्ञापन देने पहुंचे अमरीश श्रीवास्तव, दिनेश शर्मा, ज्ञानप्रकाश व्यास, दिनेश अष्ठाना, राघवेन्द्र भदौरिया, राकेश राठौर, राखी श्रीवास, योगिता मुंदेला, माया पटेल, लीना श्रीवास, मेघराज गेहलोत, संदीप जोशी, संजय रायकवार, विवेक पटोरिया, राजेश राठौर, दीपक पंवार, अमर राठौर, मुरलीधर सोनी, ज्ञानेश्वर शर्मा, विक्की बोड़ाना, निर्मला बुआ, प्रदीपसिंह ठाकुर, शीतलप्रसाद कुमायु, निलेश सिकरवार आदि रहवासियों ने अधिकारियों से अनुरोध किया कि शासकीय मैदान व उद्यान से अतिक्रमण शीघ्र हटवाया जाए। व्यायाम शाला के नाम पर बने अवैध कब्जे को हटाया जाए।
शास्त्रीनगर मैदान पर टॉवर, हादसा हुआ तो जिम्मेदार कौन
रहवासियों ने हरिहरनाथ शास्त्री नगर खेल मैदान पर अवैध रूप से लगाए गए टॉवर पर भी आपत्ति जताई। समाजसेवी धनराज गेहलोत के अनुसार रहवासियों ने कहा कि क्रिकेट स्पर्धा के साथ ही प्रदेश स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन भी इस मैदान पर होता है, दौड़ते भागते कोई खिलाड़ी टॉवर से टकरा गया तो। वहीं इस मैदान पर रावण दहन होता है, जिसमें हजारों लोग मौजूद रहते हैं, ऐसे में कोई हादसा हो गया तो जिम्मेदार कौन होगा। नगर निगम अधिकारी हादसे से पहले सचेत हों तो ज्यादा बेहतर है, न कि आम आदमी की जान जाने के बाद। कॉलोनी के लेआउट में किसी भी प्रकार का हरिहर नाथ शास्त्री खेल मैदान एवं पंडित गिरजा शंकर व्यास उद्यान गली नंबर में कोई भी निर्माण नहीं दर्शाया गया है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button