टॉप न्यूज़राष्ट्रीय न्यूज़

भाजपा के विधायक पद से इस्तीफा

भाजपा को महज 24 घंटे के अंदर गोवा में दो बड़े झटके लगे हैं। भाजपा के नेता और कारोबारी प्रवीण झांते ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। वह जल्दी ही महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी जॉइन कर सकते हैं। मायेम सीट से विधायक प्रवीण ऐसे दूसरे नेता हैं, जिन्होंने भाजपा को छोड़ा है। इससे पहले गोवा के मंत्री और विधायक माइकल लोबो ने भी पद छोड़ दिया था। प्रवीण के पिता हरीश भी कांग्रेस के सांसद रहे हैं। वह 1991 से 1996 तक उत्तरी गोवा संसदीय सीट से सांसद थे। 2012 में कांग्रेस से विधानसभा चुनाव में टिकट न मिलने के बाद प्रवीण ने पार्टी छोड़ दी थी।

प्रवीण ने 2012 में निर्दलीय चुनाव लड़ा था। इसके बाद वह 2017 में भाजपा में शामिल हो गए थे और अब भगवा दल भी छोड़ रहे हैं। भाजपा छोड़ते हुए प्रवीण ने कहा कि अब यह पार्टी वह नहीं रह गई है, जो मनोहर पर्रिकर दौर में हुआ करती थी। प्रवीण ने कहा, ‘मैं पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर के कहने पर पार्टी में शामिल हुआ था। लेकिन अब भाजपा वैसी नहीं रह गई है, जैसी वह उनके दौर में हुआ करती थी।’ उन्होंने कहा कि भाजपा युवाओं को रोजगार देने में और खनन आदि की शुरुआत करने में फेल रही है। उन्होंने कहा कि वादे पूरे न होने के चलते मेरी ही विधानसभा के युवा निराश हैं।
प्रवीण ने कहा कि मैं महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी में शामिल होने जा रहा हूं। इस बीच भाजपा सूत्रों का कहना है कि प्रवीण को शायद अंदाजा हो गया था कि उन्हें दोबारा टिकट नहीं मिलने वाला है। भाजपा ने हाल ही में महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के एक बड़े नेता को तोड़ा था, जिससे एमजीपी मायेम सीट से उतारने का प्लान बना रही थी। हाल के दिनों में भाजपा छोड़ने वाले प्रवीण चौथे विधायक हैं। उनसे पहले माइकल लोबो ने पार्टी छोड़ी थी। इसके अलावा अलीना साल्दानहा ने आम आदमी पार्टी का दामन थामा है, जबकि कार्लोस अल्मीडा ने कांग्रेस जॉइन की है। हालांकि माइकल लोबो ने अभी यह उजागर नहीं किया है कि वह किस पार्टी में जाने वाले हैं।

Back to top button