उज्जैन न्यूज़टॉप न्यूज़प्रशासनिक न्यूज़मध्य प्रदेश

Mp में ‘सिरो सर्वे’ कि जांच केवल इंदौर उज्जैन में ही, कल से सभी वार्डों में ब्लड सेम्पल लिए जाएंगे

महापौर एवं कलेक्टर ने सेम्पल में सहयोग देने की अपील की

उज्जैन शहर में 22 अगस्त से ‘सिरो सर्वे’ प्रारम्भ होगा

सभी 54 वार्डों से कुल 5 हजार ब्लड सेम्पल लिये जायेंगे

उज्जैन । उज्जैन शहर में ऐसे लोगों की जांच करने के लिये जिनको कोरोना संक्रमण होकर निकल गया और वे एसिम्टोमैटिक थे, के लिये एम्स भोपाल के मार्गदर्शन में 22 अगस्त से ‘सिरो सर्वे’ प्रारम्भ किया जा रहा है।

सेम्पलिंग के लिये उज्जैन शहर के सभी वार्डों में घर-घर जाकर रक्त के नमूने इकट्ठे किये जायेंगे एवं इनकी जांच की जायेगी। प्रदेशभर में इस तरह की जांच के लिये मध्य प्रदेश के उज्जैन एवं इन्दौर शहर को ही चिन्हित किया गया है। शहर के 54 वार्डों में जिन-जिन क्षेत्रों में कोरोना का प्रसार अधिक हुआ है, उन क्षेत्रों के हिसाब से विभाजित करते हुए कुल पांच हजार सेम्पल एकत्रित किये जायेंगे।

इस जांच से यह पता लगेगा कि उज्जैन शहर के कितने प्रतिशत लोगों में कोरोना वायरस के प्रति एंटीबॉडी विकसित हो चुकी है तथा वह कितनी पुरानी है। शहर के सभी वार्डों में कुल 100 से लेकर 250 लोगों की जांच के लिये रक्त के नमूने लिये जायेंगे। कलेक्टर  आशीष सिंह ने यह बात आज विक्रम कीर्ति मन्दिर में आयोजित शहर के पार्षदगणों एवं स्वास्थ्यकर्मियों की कार्यशाला में कही।

कलेक्टर  आशीष सिंह ने महापौर  मीना जोनवाल एवं कार्यशाला में मौजूद पार्षदगण एवं पार्षद प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में स्वास्थ्यकर्मियों का सहयोग कर ब्लड सेम्पल लेने की प्रक्रिया शीघ्र-अतिशीघ्र पूरी करवायें। कलेक्टर ने कहा कि इस तरह के सेम्पल वाले व्यक्ति की पहचान उजागर नहीं की जायेगी, न ही सेम्पल के परिणाम आने के बाद उन्हें किसी तरह से क्वारेंटाईन या आइसोलेशन में रहने के लिये कहा जायेगा। यह सेम्पल केवल यह जांच करने के लिये लिये जा रहे हैं कि उज्जैन शहर में संक्रमण का प्रभाव किस स्थिति में है व आगे शासन को क्या-क्या उपाय करना होंगे।

महापौर ने कहा लक्ष्य निर्धारित कर सर्वे पूरा करेंगे

कार्यक्रम में महापौर  मीना जोनवाल ने कहा कि नगर निगम के सभी 54 वार्डों में पार्षद इस कार्य के लिये आगे आकर सहयोग प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि किसी भी नागरिक को सेम्पल देने में हिचकिचाना नहीं चाहिये और आगे आकर सर्वे टीम का सहयोग करना चाहिये।

महापौर श्रीमती जोनवाल ने कहा कि हमें पांच दिन का लक्ष्य निर्धारित कर इस काम को पूरा करना है और इसी के मद्देनजर सभी लोगों को काम करने की आवश्यकता है। महापौर ने कलेक्टर ने आग्रह किया कि यदि कोई व्यक्ति अपने स्वयं की रिपोर्ट जानना चाहता है तो उसे व्यक्तिगत रूप से इसकी जानकारी देना चाहिये। 

Tags

Related Articles

Back to top button