उज्जैन न्यूज़प्रशासनिक न्यूज़मध्य प्रदेशराजनीति न्यूज़

केबिनेट मंत्री से जुड़ते ही गिर गई सस्पेंशन की गाज, आज से करना था कार्य प्रारंभ उससे पहले ही कलेक्टर ने कर दिया निलंबित ! 

सहायक जनसम्पर्क अधिकारी संतोष उज्जैनिया के निलंबन से पत्रकारों में रोष, सत्ता संगठन में चर्चा का विषय की माननीय अपने सहयोगियों अधिकारी को ही नही बचा सके!
उज्जैन । सिर मुंडाते ही ओले गिरने की कहावत तो आपने कई बार सुनी होगी, कुछ ऐसा ही उज्जैन जनसम्पर्क विभाग से सहायक जनसम्पर्क अधिकारी संतोष उज्जैनिया के साथ हो गया है, उन्हें शुक्रवार को ही केबिनेट मंत्री डॉक्टर मोहन यादव का पीआरओ का कार्यभार देखने के लिए विभाग द्वारा मंत्री जी के साथ अटैचमेंट किया गया था, साफ स्वच्छ छवि के कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी संतोष उज्जैनिया कई वर्षों से उज्जैन में है और उनकी बेहतर कार्यशैली से सभी वाकिफ़ है फिलहाल वे महाकाल मंदिर पीआरओ का कार्य भी देख रहे थे और उनकी कार्यशैली को देखते हुए ही उन्हें मंत्री मोहन यादव के साथ अटैच किया गया था और आज से उन्हें उनके कवरेज करने थे लेकिन शनिवार को कलेक्टर आशीष सिंह ने उन्हें कुछ झूठी और मनगढ़त शिकायतों के बाद निलंबित कर दिया न तो उनसे शिकायतो के सबंध में कोई जवाब मांगा गया और न तलब किया गया,सीधे निलंबन आदेश जारी कर दिया गया।।
 जिसे लेकर पत्रकारों में रोष फैल गया और पत्रकारों ने आदेश के विरोध में सोशल केम्पेन चला दिया वहीं सत्ता और संगठन में भी चर्चा है कि मंत्री जी अपने पीएसओ तक को सस्पेंड होने से नही बचा पाए तो कार्यकर्ताओं का भगवान ही मालिक है।
Tags

Related Articles

Back to top button