सामाजिक न्यूज़
Trending

गरीबो के बिल माफ किए जाए स्मार्ट मीटर, बिजली बिल के नाम पर की जा रही ज्यादती के विरोध में फूटा आक्रोश

स्मार्ट मीटर पहले मंत्री और सांसद के घर लगाए फिर जनता के यहां- नूरी खान ज्योतिनगर एमपीईबी कार्यालय पर नूरी खान के नेतृत्व में हुआ प्रदर्शन- शिवराजसिंह चौहान हाय, हाय, शिवराज तेरी तानाशाही नहीं चलेगी जैसे नारों से गूंजा मुख्य अभियंता कार्यालय

उज्जैन। विद्युत मंडल द्वारा आम लोगों के साथ बिजली बिल, स्मार्ट मीटर के नाम पर की जा रही ज्यादती के विरोध में म.प्र. महिला कांग्रेस की वरिष्ठ उपाध्यक्ष नूरी खान के नेतृत्व में शहरवासियों ने मुख्य अभियंता कार्यालय ज्योतिनगर का घेराव किया। प्रदर्शन दौरान ‘कमलनाथ सरकार में 100 यूनिट 100 रूपये बिल की योजना लाए, शिवराज सरकार महंगी बिजली महंगा बिल लेकर आ गए। ‘मामा जी आप लालबत्ती में जनता मोमबत्ती में’ ‘मामा तेरे राज में लाईट का बिल भरना हुआ मुश्किल’ जैसे स्लोगन लिखी हुई तख्तियां लहराई गई। नूरी खान ने कहा स्मार्ट मीटर पहले मंत्री और सांसद के घर लगाए जाएं फिर जनता के यहां।
नूरी खान ने कहा कि लोगों के साथ बिल के नाम पर अत्याचार किया जा रहा है जो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कभी स्मार्ट मीटर के नाम पर कभी बिलों के नाम पर अत्याचार किया जा रहा है, गरीब आदमी 10, 20 हजार 1 लाख के बिल कहां से भरेगा। शिवराजसिंह चौहान हाय, हाय, शिवराज तेरी तानाशाही नहीं चलेगी, नहीं चलेगी जैसे नारों से ज्योतिनगर विद्युत मंडल कार्यालय गूंज उठा। नूरी खान ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की कि लॉकडाउन अवधि के विद्युत बिल माफ किये जाए, बीपीएल राशन कार्ड धारकों को निःशुल्क बिजली प्रदान की जाए। नगर निगम के पेंशनधारी जिनके नाम से विद्युत कनेक्शन हैं, उनको एक बत्ती कनेक्शन निःशुल्क दिया जावे। विद्युत देयक की राशि ओव्हर ड्यू हो जाने की दशा में कम से कम तीन माह का समय दिया जाए एवं तत्काल विद्युत कनेक्शन कदापि विच्छेदित नहीं किया जाए। समूचे शहर के उपभोक्ताओं के वाजिब हितों की रक्षा के लिए एक समाधान केंद्र की स्थापना की जावे ताकि उनकी उपज रही परेशानियों का अविलंब एक ही दिन में निराकरण संभव हो सके। बिजली बिलों में जो आंकलित खपत मानकर बिल जारी किये जाते हैं उन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जावे, इसी आड़ में कर्मचारीगण व अधिकारीगण अवैध वसूली करते हैं उस पर अंकुश लगाया जाए। बिजली कर्मचारियों द्वारा विद्युत उपभोक्ताओं को आए दिन धमकाने की शिकायत मिल रही है जिस पर शीघ्र नियंत्रण किया जाए। समूचे उज्जैन शहर में खुली डीपी को कवर किया जाए एवं जो विद्युत तार लटक रहे हैं उनको दुरूस्त करवाया जावे। विद्युत पोल जो जर्जर हैं उनको बदला जावे। इसके साथ ही नूरी खान ने चेतावनी दी कि यदि सात दिनों में समस्याओं का निराकरण नहीं हुआ तो कांग्रेसजन प्रत्येक झोन पर प्रजातांत्रिक तरीके से विरोध प्रदर्शन करेंगे जिसकी जवाबदारी बिजली कंपनी की होगी।

Back to top button