उज्जैन न्यूज़क्राइम न्यूज़

360 रूपये के चक्कर में दो परिवार झगड़े, अब ईश्वर दे रहा है, अतुल के खिलाफ एसपी कलेक्टर को ज्ञापन!

उज्जैन। मात्र 360 रूपये के कारण झगड़ा इतना बड़ा के देवराखेड़ी निवासी अतुल आंजना पिता ईश्वर आंजना उम्र 24 वर्ष के पूरे परिवार ने ईश्वर पिता बजेसिंह उम्र 25 वर्ष निवासी ग्राम देवराखेड़ी के घर पर हमला कर दिया और बीच में जो आया उसके साथ मारपीट की। अब ईश्वर के परिजन अस्पताल में भर्ती हैं वहीं अतुल के परिजन राजनीतिक रसूख का लाभ उठाकर मामले को कमजोर करने में लगे हैं। जिसके विरोध में ईश्वर ने एसपी के नाम ज्ञापन सौंपकर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।
दरअसल ईश्वर ने अतुल से अपने खेत पर कल्टीवेटर का कार्य करवाया, ईश्वर के अनुसार काम पूरा होते ही संपूर्ण राशि अतुल को दे दी गई। लेकिन 21 जून को शाम 6 बजे ईश्वर से अतुल ने फिर 360 रूपये की मांग की। ईश्वर ने कहा कि पूरा रूपया चुका दिया है तो अतुल ने उसके साथ गाली गलौच की तथा अतुल के मामा केशु पिता माना ने ईश्वर के साथ मारपीट की। ईश्वर के पीछे-पीछे अतुल के पिता ईश्वर आंजना पिता हरिराम आंजना उम्र 45 वर्ष, जीतू पिता मोतीराम उम्र 32 वर्ष, वीरेन्द्र पिता मोतीराम उम्र 30 वर्ष, केशु पिता मानाराम उम्र 55 वर्ष सभी निवासी देवराखेड़ी तथा परमानंद पिता भोलेनाथ उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम बंबोरा घर आए। ईश्वर के पिता बजेसिंह, उसकी बुआ लच्छीबाई, फुफा हरिराम, फुफेरा भाई रितेश, काका भगवान सिंह पिता शोभाराम आवाज सुनकर वाहर आये तथा आरोपियों को गाली देने से मना किया तो सभी ने हमला कर दिया जिसमें बजेसिंह, लच्छीबाई, हरिराम, भगवान सिंह तथा स्वयं ईश्वर घायल हो गए। जाते-जाते जान से मारने की धमकी दी। घटना के बाद ईश्वर थाने पर रिपोर्ट लिखाने पहुंचा लेकिन पुलिस ने आरोपी पक्ष के दबाव में रिपोर्ट नहीं लिखी। जब रिपोर्ट नहीं लिखने का विरोध किया तो ईश्वर के काका करणसिंह दायमा के साथ मारपीट पुलिस द्वारा की गई। मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पर शिकायत हुई तब जाकर दो घंटे बाद रिपोर्ट दर्ज हो पाई। आरोपियों के राजनीतिक रसूख के कारण रितेश को 25 जून को छुट्टी दे दी गई तथा बजेसिंह और भगवानसिंह को शनिवार को डिस्चार्ज करने का कहा जबकि तीनों को गंभीर चोटे आई है। वहीं दूसरी ओर आज तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। जबकि आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं और परिजनों को जान से मारने की धौंस दी जा रही है। ईश्वरसिंह पिता बजेसिंह ने एसपी, आईजी, कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर निष्पक्ष जांचकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

Tags

Related Articles

Back to top button