उज्जैन न्यूज़क्राइम न्यूज़मध्य प्रदेश

उज्जैन एसटीएफ टीम को बड़ी सफलता हाथ लगी नकली नोट खपाने का प्रयास कर रहे 3 लोगों को पकड़ा


नानाखेड़ा क्षेत्र में नकली नोट खपाने का प्रयास कर रहे 3 लोगों को पकड़ा
टीम ने साढे तीन लाख से अधिक के नकली नोट बरामद किए
तीन में से एक आरोपी सरकारी विभाग में लिपिक के पद पर हैं 10 % कमीशन पर चलाते थे मार्केट में नोट

एसटीएफ की टीम ने नानाखेड़ा क्षेत्र से 3 युवकों को गिरफ्तार कर उनके पास से नकली नोट का जखीरा पकड़ा है बताया जाता है कि तीनों नानाखेड़ा क्षेत्र में नकली नोट खपाने का प्रयास कर रहे थे एसटीएफ उज्जैन की टीम को यह बड़ी सफलता हाथ लगी है इस पूरे मामले का मंगलवार को एसटीएफ उज्जैन के पुलिस अधीक्षक गीतेश कुमार गर्ग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान खुलासा किया पुलिस अधीक्षक गर्ग ने बताया कि मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई थी कि एक व्यक्ति नानाखेड़ा बस स्टेशन क्षेत्र मैं नकली नोट चलाने का प्रयास कर रहा है इस पर एसटीएफ की टीम ने मौके पर पहुंचकर उक्त युवक को हिरासत में ले लिया तथा उसके पास से टीम ने नकली नोट भी बरामद किए जब उक्त युवक को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की तो उसने अपना नाम रवि मालवै उम्र 40 वर्ष निवासी ग्राम काटकूट तहसील बड़वाह जिला खरगोन पता चला। जब एसटीएफ की टीम ने रवि को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपने 2 साथी शाकिर पिता जाबिर अली उम्र 28 वर्ष तथा आदिल पिता मोहम्मद शफी उम्र 32 वर्ष दोनों निवासी सेंधवा जिला बड़वानी बताया। पुलिस ने तीनों से अब तक साढे तीन लाख रुपए के नकली नोट बरामद कर लिए हैं जो कि 5-5 सौ के नोट की गड्डियां है।टीम तीनों आरोपियों को हिरासत में लेकर इनके सरगनाऔ के बारे मैं पता लगाने का प्रयास कर रही है बताया जाता है कि रवि मालवी वृताकार सेवा सहकारी समिति बड़वा जिला खरगोन में सहायक लिपिक के पद पर कार्यरत हैं रवि के बारे में पता चला है कि इसने इंदौर सराफा बाजार में भी नकली नोटों को खपाने का प्रयास किया है इसके अलावा शाकिर अली जो सेंधवा के क्षेत्र में ठेकेदारी का कार्य करता है तथा इस समय मजदूरों एवं अन्य व्यवसाय के लेन-देन में भी नकली नोट खपाये हैं । टीम ने इन आरोपियों के पास से जो नकली नोट बरामद किए हैं वह अलग अलग नंबर के हैं केवल कुछ नोट ही समान नंबर के हैं प्रथम दृश्य नकली नोट असली जैसे दिखाई दे रहे हैं अगर इन्हें गौर से व बारीकी से देखा जाए तो ही यह नकली नोट पता चलते हैं इसके अलावा तीसरा आरोपी आदिल मोहम्मद जोकि रामदेव जी के बाड़े सेंधवा में ट्रकों की पेंटिंग का कार्य करता है तथा इसने भी व्यवसाय के लेन-देन में नकली नोट खफाये हैं। बताया जाता है कि इन तीनों को बाजार में नकली नोट चलाने के एवज में 10% कमीशन मिलता था पुलिस इनके गिरोह के मुख्य सरगना तक पहुंचने का प्रयास कर रही है।
पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 53 / 2010 धारा 341, 294 ,323, 506, 34 भादवी 25, 27 आर्म्स एक्ट का अपराध दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है इस पूरे नकली नोट के जखीरे का खुलासा करने में सराहनीय भूमिका निरीक्षक दीपिका शिंदे, उप निरीक्षक जे एस परमार,
स.उप निरीक्षक देवेंद्र सिंह कुशवाह ,आरक्षक सुनील झा ,संजय शुक्ला,
धर्मेंद्र बडोलिया, राजपाल सिंह राठौर, पुष्पेंद्र यादव, राजेंद्र परिहार, मनीष राठौर, पूनम चंद यादव आदि की रही है

Related Articles

Back to top button