क्राइम न्यूज़
Trending

जैसे के साथ तेसा : फर्जी मानव अधिकार आयोग सदस्य बन लोगों को ठगने वाली  ने प्रेमी पर लगाए गंभीर आरोप

– मारपीट कर  प्रेमी बने पति ने जेवर सहित लाखों रुपए ठग लिए, अब राष्ट्रपति से न्याय की गुहार

उज्जैन। प्रकृति का एक पुराना नियम है कि अगर आप बबूल का पौधा बोओगे तो उसमें से कांटे ही निकलेंगे ऐसा ही हुआ है 4 माह पहले जालसाजी में पकड़ाई करीन (बदला हुआ नाम) के साथ। फर्जी मानव अधिकार आयोग की सदस्य बन महिला थाने में आए पारिवारिक मामलों में पीड़ित और आरोपी दोनों को ही डरा धमका कर रुपए ऐंठने का काम करती थी। इस मामले में उसके खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हुए अब जेल से जमानत पर छूटने के बाद करीन राष्ट्रपति सहित मुख्यमंत्री  आईजी और एसपी तक से न्याय की गुहार लगाई है, कि वह खुद अपने पूर्व प्रेमी और पति से ठगी का शिकार हो गई यही नहीं वह पिछले डेढ़ से 2 साल से प्रेमी और और बाद में पति बने युवक की प्रताड़ना झेल रही है करीन का कहना है कि कई बार अनाम ने उसके साथ इच्छा के विपरीत अप्राकृतिक संबंध बनाएं वह जब इसके लिए इंकार करती तो वह उसके साथ मारपीट करता था।
– करीन का कहना मैं खुद हुई थी अनाम के प्रेम जाल का शिकार
2018 में कार्यक्रम के दौरान अनाम से मेरी मुलाकात हुई थी इसके बाद अमान ने मेरे से दोस्ती करना शुरू कर दी और 1 दिन झांसे में लेकर कहा कि मेरी पत्नी मुझे छोड़ कर के चली गई मैं अकेला हूं मैं तुमसे प्यार करता हूं मैं तुमसे शादी करूंगा इसके बाद झांसे में लेकर मेरे साथ कई बार गलत काम किया और मेरे साथ बगैर इच्छा के अप्राकृतिक कृत्य भी कीया है जब मैंने शादी का दबाव बनाया तो वह इसके बाद भी हमारी शादी के लिए तैयार नहीं था ऐसे में वह जनवरी 2021 में एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला के पास अनाम की शिकायत करने पहुंचे एसपी ने अनाम के खिलाफ महिला थाने में प्रकरण दर्ज करने की बात कही गई परंतु जब प्रकरण दर्ज होने वाला था तब महिला पुलिस कर्मियों ने अमान को थाने बुला कर आपस में समझौता करा दिया अनाम ने भी यहां पर कहा कि वह शादी करने के लिए तैयार है और हमेशा जिंदगी भर इज्जत से रखेगा इसके बाद अनाम ने मुस्लिम रीति-रिवाज से शादी कर ली। अनाम की नियत मेरे पिता के द्वारा दी गई संपत्ति पर थी उसने मेरे साथ जालसाजी कर प्रेम के जाल में फंसाया और शादी करने के बाद कुछ ही दिनों बाद अपना असली रूप दिखा दिया और अक्सर मारपीट करने लगा कई बार बगैर बताए अलमारी से जेवर और रुपए ले जाता वह मारपीट करता था।
 अनाम उसे नशीला नशा भी देता जिससे वह कमजोर और बीमार रहने लगी… करीन ने यह भी बताया कि जब उसे पुलिस पकड़ने आई तब भी मैंने अनाम को अपने घर की चाबी और जेवरात का डब्बा दे दिया था कि मेरी जमानत करवाने के काम आएंगे लेकिन अनाम ने उन्हें भी ठिकाने लगा दिया। अनाम ने मेरे माता-पिता द्वारा दी गई संपत्ति को देख मुझे झूठे प्रेम में फंसा कर धोखे पूर्वक शादी कर मेरी संपत्ति लूट ली है जिसकी शिकायत करीन ने राष्ट्रपति से लेकर एसपी को की है।
Back to top button